×

इतिहास


चेर राजवंश Cher Rajvansh

दक्षिण भारत का तीसरा राज्य चेर या केरल था। इस राज्य का मुख्य केन्द्र... Read More...

आंध्र इक्ष्वाकु वंश Andhra Icvaku Vansha

दक्षिणी भारत के पूर्वी भारत के सातवाहन शक्ति के पतन... Read More...

कण्व वंश Kanv Vansha

मगध राज्य के शुंग वंश के अंतिम सम्राट देवभूति को मारकर 75 ई.पू. वासुदेव... Read More...

कदम्ब वंश Kadamb Vansha

दक्षिण भारत में 300 ई० से 750 ई० तक एक अन्य वंश जिसका उल्लेख मिलता है ... Read More...

गंग वंश का इतिहास Gang Vans Ka Itihaas

पल्लवों के समकालीन राज्यों में एक गंग वश का साम्राज्य था. ... Read More...

मौर्योत्तर काल में व्यापार और नगर Mauyotra Kal

मौर्योत्तर काल के विषय में सम्पूर्ण जानकारी... Read More...

हर्ष और उसका काल – Harsha’s Kingdom

गुप्त लोगों ने उत्तर प्रदेश और बिहार स्थित अपने सत्ता-केन्द्र से उत्तर ... Read More...

साहित्य के क्षेत्र में प्राचीन भारत का योगदान

प्राचीन भारत ने विश्व को अनेक महत्त्वपूर्ण ग्रन्थ प्रदान किये. ... Read More...

लिच्छवि साम्राज्य Lichabi Samrajya

वृज्जि या वज्जि संघ में लिच्छिवियों का... Read More...

मैसूर महल

यह महल ओडियार यदुराजवंश के वंशजो का है । 1399 ईस्वी में यदुराय ओडियार से यदुवंश की इस नई शाखा का निर्माण हुआ । जैसे लगभग 250 ईस्वी में जादौन राजवंश से भाटी राजवंश नाम की शाखा निकली, इसी तरह दक्षिण में एक नई यदुवंश क्षत्रियः शाखा का निर्माण हुआ, जिसका नाम ओडियार परिवार था ।... Read More...