header-logo3.png

थायराइड के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Thyroid Hypothyroidism)

Share Now:

थायरॉइड से सम्बन्धित बीमारी अस्वस्थ खान-पान और तनावपूर्ण जीवन जीने के कारण होती है। आयुर्वेद के अनुसार, वात, पित्त व कफ के कारण थायरॉइड संबंधित रोग होता है। जब शरीर में वात एवं कफ दोष हो जाता है तब व्यक्ति को थायरॉइड होता है। आप थायराइड का इलाज करने के लिये आयुर्वेदिक तरीकों को आजमा सकते हैं। आयुर्वेदीय उपचार द्वारा वात और कफ दोषों को सन्तुलित किया जाता है। अच्छी बात तो यह है कि आप थायरॉइड का घरेलू उपचार भी कर सकते हैं।

थायरॉइड क्या है? (What is Thyroid in Hindi?)

थायरॉइड ग्रन्थि में आई गड़बड़ी के कारण थायरॉइड से संबंधित रोग जैसे Hyperthyroidism या Hypothyroidism होते है। Thyroid gland को अवटु ग्रन्थि भी कहा जाता है। अवटु या Thyroid ग्रन्थियाँ मानव शरीर में पाई जाने वाली सबसे बड़ी अतस्रावी ग्रंथियों में से एक है।

यह द्विपिंडक रचना हमारे गले में स्वरयंत्र के नीचे Cricoid Cartilage के लगभग समान स्तर पर स्थित होती है। शरीर की चयापचय क्रिया में थायरॉइड ग्रंथि का विशेष योगदान होता है।

यह Thyroid ग्रन्थि Tri–iodothyronin (T3) और Thyrocalcitonin नामक हार्मोन स्रावित करती है। ये हार्मोन शरीर के चयापचय दर और अन्य विकास तंत्रों को प्रभावित करते हैं। Thyroid harmone हमारे शरीर की सभी प्रक्रियाओं की गति को नियंत्रित करता है।

थायरॉइड हार्मोन का काम (Thyroid Works in Hindi)

आपका शरीर थायरॉइड से ये फायदा होता हैः-

  • थायरोक्सिन (Thyroxine) हार्मोन वसा, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट के चयापचय को नियंत्रित रखता है।
  • यह रक्त में चीनी, कोलेस्ट्रॉल (Cholestrol) तथा फोस्फोलिपिड की मात्रा को कम करता है।
  • यह हड्डियों, पेशियों, लैंगिक तथा मानसिक वृद्धि को नियंत्रित करता है।
  • हृदयगति एवं रक्तचाप को नियंत्रित रखता है।
  • महिलाओं में दुग्धस्राव को बढ़ाता है।

थायरॉइड के दौरान आपका खान-पान (Your Diet in Thyroid Disease)

थायरॉइड की परेशानी के दौरान आपका खान-पान ऐसा होना चाहिएः-

  • थायरॉइड रोग में कम वसा वाले आहार का सेवन करें।
  • ज्यादा से ज्यादा फलों एवं सब्जियों को भोजन में शामिल करें।
  • विशेषकर हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें। इनमें उचित मात्रा में आयरन होता है, जो थायरॉइड के रोगियों के लिए फायदेमंद है।
  • पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करें। मिनरल्स और विटामिन से युक्त भोजन लेने से थायरॉइड कन्ट्रोल करने में मदद मिलती है।
  • आयोडीन युक्त आहार का सेवन करें।
  • नट्स जैसे बादाम, काजू और सूरजमुखी के बीजों का अधिक सेवन करें। इनमें कॉपर की पर्याप्त मात्रा होती है, जो थायरॉइड में फायदेमंद होता है।
  • थायराइड के घरेलू उपचार के अंतगर्त दूध और दही का अधिक सेवन करना चाहिए।
  • थायराइड के घरेलू इलाज के लिए आप विटामिन-ए का अधिक सेवन करें। इसके लिए आप गाजर खा सकते हैं।
  • साबुत अनाज का सेवन करें। इसमें फाइबर, प्रोटीन और विटामिन्स भरपूर मात्रा में होते हैं।
  • मुलेठी में मौजूद तत्व थायरॉइड ग्रन्थि को संतुलित बनाते हैं। यह थायरॉइड में कैंसर को बढ़ने से भी रोकता है।
  • गेहूँ और ज्वार का सेवन करें।


थायराइड के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Thyroid Hypothyroidism) Videos


Home Remedies for Thyroid Hypothyroidism


थायराइड के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Thyroid Hypothyroidism) Photos


Home Remedies for Thyroid Hypothyroidism

आज का विशेष

  • मेरे साई की क्या बात चर्चा गली गली meri sai ki kya baat charcha gali gali
  • साई के श्री चरणों में सृष्टि के हर सुख पाओगे sai ke shri charno me shrishti ke har sukh paaoge
  • साईं दुःख दूर करे sai dukh dur kare
  • हमे प्यारा लगता है मेरे बाबा का दरबार hume pyaara lagta hai mere baba ka darbar
  • शिरडी के राजा का भी कृपा नजरिया shirdi ke raja ka bhi kripa najariya
  • ये दुनिया तुझे कुछ नहीं देने वाली ye duniya tujhe kuch nhi dene vaali
  • हमपे रेहम करना हमपे रेहम करना humpe reham karna humpe reham karna
  • मुझको कोयल बना दे साईं तेरे बगियन की mujhko koyal bna de sai tere bagiyan ki
  • आया जो भी कोई फर्यादी aaya jo bhi koi faryaadi
  • साई जी तहनु तक तक के जीवा sai ji tahnu tk tk ke jeewa